टैन रिमूवल के आयुर्वेदिक उपाय – Tan Removal Ke Ayurvedic Upay

टैन रिमूवल के आयुर्वेदिक उपाय

टैनिंग क्या है? Tanning Kya Hai?

गर्मियों के दिनों में ज़्यादातर लोग धूप से बचने की कोशिश करते हैं और इन्हीं कारणों से वह टैन रिमूवल के आयुर्वेदिक उपाय जानना चाहते हैं। आयुर्वेद आपके अनचाहे टैन से छुटकारा पाने का एक बेहतरीन तरीका है। यह एक प्राकृतिक उपचार है, जिसमें शरीर को ठीक करने के लिए हर्बल उपचार का इस्तेमाल किया जाता है। लेख में टैन हटाने और आपकी त्वचा को वापस पहले जैसा बनाने के तरीकों से संबंधित ऐसी कई ज़रूरी जानकारी दी गई है।

what is tanning

टैनिंग मेलेनिन यानी एक प्राकृतिक पिगमेंट के उत्पादन में बढ़ोतरी के कारण त्वचा का काला पड़ना है। सनटैन या सनबर्न आपको समय से पहले बूढ़ा बनाते हैं। इसके अलावा यह कुछ प्रकार के कैंसर का जोखिम भी बढ़ाते या विकसित करते हैं। खासतौर से ऐसा तब होता है, जब आप सूरज की रोशनी या इनडोर टैनिंग बेड से बहुत ज्यादा पराबैंगनी प्रकाश के संपर्क में होते हैं। सूरज से होने वाला नुकसान इकट्ठा होने वाली होता है, जो पहले टैन से शुरू होता है।

टैनिंग के नकारात्मक प्रभाव

सुरक्षित या स्वस्थ टैन जैसी कोई चीज नहीं होती है। टैनिंग आपको बेसल सेल कार्सिनोमा, स्क्वैमस सेल कार्सिनोमा और मेलेनोमा के बढ़ते जोखिम में डालती है। साथ ही इसके कारण आपको झुर्रियां, समय से पहले बुढ़ापा, कम लचीलापन और चमड़े जैसी दिखने वाली त्वचा और अन्य समस्याएं हो सकती है। यह आपकी परतदार त्वचा का मुख्य कारण हो सकती है, जिससे यह ढीली दिखने लगती है। इन त्वचा संबंधी समस्याओं से अपने आप को सुरक्षित करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप पूरी तरह से टैनिंग से बचें।

आपकी त्वचा आपके शरीर का सबसे बड़ा अंग है और जब आप टैन हो जाते हैं, तो यह याद रखना ज़रूरी है। आपको त्वचा संबंधि कैंसर के विकास को लेकर चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। हालांकि, टैनिंग के नकारात्मक प्रभावों को ध्यान रखना और इनसे बचने की कोशिश करना बहुत ज़रूरी है। जब आप आयुर्वेद के साथ सन टैन को हटाते हैं, तो आपका शरीर स्वाभाविक रूप से मेलेनिन को फिर से और ज़्यादा समान रूप से उत्पन्न करेगा, ताकि आपके चेहरे या गर्दन पर कोई एक जगह दूसरों की तुलना में काली नहीं दिखे।

आयुर्वेद से सनटैन कैसे हटाएं? Ayurved Se Suntan Kaise Hatayein?

प्राचीन आयुर्वेदिक ग्रंथों में हल्दी, केसर, चीनी और अखरोट के तेल को त्वचा की टैनिंग के लिए अच्छा माना गया है। लेख के इस हिस्से में हम टैन हटाने के आसान घरेलू उपचारों पर चर्चा करेंगे, जो किसी भी शारीरिक हिस्से पर मौजूद टैन से छुटकारा पाने में आपकी मदद कर सकते हैं। यह आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है, फिर भले ही आप शहर में घूम रहे हों या पूल के किनारे आराम कर रहे हों।

नींबू का रस और शहद

lemon and honey to remove tan

नींबू के रस में वाइटनिंग इफेक्ट होता है, जो टैन को जल्दी हटाने में आपकी मदद करता है। विटामिन सी में उच्च इस घरेलू उपचार को एक प्रभावी टैन रिमूवर माना जाता है। नींबू का साइट्रिक एसिड मुंहासों के निशान को कम करने और निशान को हल्का करने में आपकी काफी मदद करता है।

  • थोड़ा ताजा नींबू का रस निचोड़ें और उसमें थोड़ा सा शहद मिलाएं।
  • 30 मिनट के बाद इस मिश्रण का इस्तेमाल करें और अपनी त्वचा को माइल्ड क्लींजर से धो लें। आप नींबू के रस और चीनी को मिलाकर एक स्क्रब भी बना सकते हैं, जो त्वचा की मरी हुई कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है।
  • अगर आपकी स्किन ऑयली है, तो आपको शहद को ज्यादा देर तक लगाकर नहीं रखना चाहिए। आप शहद के बिना भी नींबू के रस का इस्तेमाल कर सकते हैं।

नारियल का दूध

Coconut Milk for Tan Removal

नारियल का दूध बहुत गुणकारी होता है। नारियल के दूध से सन टैन हटाने की प्रक्रिया आपके स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि यह सूरज के संपर्क में आने वाली त्वचा के नुकसान को ठीक करती है। इसके अलावा यह एक ऐसा प्रभावी उपाय है, जो टैनिंग या हाइपरपिग्मेंटेशन के कारण होने वाले काले धब्बों को कम करता है और उन्हें आपकी त्वचा पर इन्हें दोबारा दिखने से रोकता है। यह सूखी त्वचा को दोबारा हाइड्रेट करने में आपकी मदद करता है। इसमें मौजूद विटामिन सी और माइल्ड एसिड घर पर टैन हटाने में बहुत फायदेमंद माने जाते हैं।

दलिया और छाछ

सन टैन को दूर करने के लिए दलिया और छाछ सबसे अच्छा मिश्रण है। आमतौर पर बहुत से लोग अपने सन टैन को हटाने के लिए बहुत सारे केमिकलों का भी इस्तेमाल करते हैं, लेकिन यह सुरक्षित होने के साथ-साथ स्थायी समाधान भी नहीं है। इसलिए, वह टैनिंग की समस्या से स्थायी तौर पर छुटकारा पाने के लिए इन प्राकृतिक अवयवों को आजमा सकते हैं।

  • ओटमील को दूध या छाछ के साथ मिलाकर अपनी त्वचा पर लगाएं।
  • 20 मिनट के लिए या पूरी तरह से अवशोषित होने तक सर्कुलर मोशन में रगड़ें। इस पेस्ट को करीब पंद्रह मिनट तक ऐसे ही सूखने दें और फिर ठंडे पानी से धोने के बाद त्वचा को धो लें।

अगर आपक कम समय में बेहतर परिणाम चाहिए, तो इन सामग्रियों के साथ शहद का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल कई अन्य आयुर्वेदिक तैयारियों में भी किया जाता है, जो प्राकृतिक रूप से टैन हटाने के लिए अच्छे होते हैं। जिन लोगों की त्वचा संवेदनशील होती है, उन्हें बिना कुछ मिलाए सीधे इन सामग्रियों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए है, क्योंकि इससे उनकी त्वचा में जलन हो सकती है। यह उन सबसे अच्छे तरीकों में से एक है, जो पूरे भारत के साथ ही दुनिया भर के अन्य स्थानों में बहुत से लोगों द्वारा जल्दी से टैन हटाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। बताए गए सभी उपचार शरीर के अलग-अलग हिस्सों से टैन हटाने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। हालांकि, अगर आप अपने चेहरे पर टैन से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो निम्नलिखित घरेलू उपचार और डी-टैन उपचार इसमें उपयोगी हो सकते हैं।

चेहरे से टैन कैसे हटाएं? Chehre Se Tan Kaise Hatayein?

चेहरे से सन टैन हटाने में कुछ सबसे ज़रूरी घटक केसर, चंदन, हल्दी और मुल्तानी मिट्टी हैं। चमकदार रंगत पाने के लिए इन सामग्रियों का इस्तेमाल करने के लिए नीचे कुछ उपाय दिए गए हैं।

आयुर्वेदिक डी टैनिंग तेल से मालिश करें – नाल्पामरादि थायलम

नहाने से पहले दिन में कम से कम दो बार इस आयुर्वेदिक तेल से शरीर की मालिश करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। मालिश सिर्फ सन टैन को ही दूर नहीं करती है, बल्कि आपकी त्वचा के छेद्रों को भी टाइट करती है। साथ ही यह त्वचा की कोशिकाओं को पोषण देती है और ब्लड सर्कुलेशन में भी सुधार करती है। नल्पामरादि थायलम एक ऐसा बेहतरीन उत्पाद है, जिसे चेहरे और शरीर की मालिश दोनों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। यह तेल पवित्र पीपल के पेड़ की पत्तियों और छाल से बनाया जाता है, जिसमें विटामिन के एक घटक के रूप में होता है। पीपल के पेड़ की छाल विटामिन के का एक समृद्ध स्रोत मानी जाती है।

किसी व्यक्ति द्वारा इसका इस्तेमाल त्वचा पर मौजूद टैन को हटाने के लिए किया जा सकता है। यह रक्त केशिकाओं की शक्ति को बढ़ाता है और त्वचा की सूजन को कम करने में मदद करता है। साथ ही यह त्वचा के ऊतकों के तेजी से उपचार को भी बढ़ावा देता है। नल्पामरादि थायलम आयुर्वेद में एक अद्भुत तेल है, जो त्वचा को नुकसान पहुंचाए बिना रंग को हल्का करता है और टैन को हटाता है। यह खासियत इसे दुल्हन की त्वचा की देखभाल के लिए बेहतरीन प्राकृतिक उपचारों में से एक बनाती है। अगर आप टैनिंग वाली त्वचा से परेशान हैं, तो शादी से 12 महीने पहले इस तेल से मालिश करना शुरू कर दें।

केसर और दूध 

Saffron and Milk to Remove Tan from Face 

सूरज की रोशनी आपकी त्वचा में ज़्यादा मेलेनिन पैदा कर सकती है। यही कारण है कि सूरज से होने वाले नुकसान को रोकने के लिए हर संभव कोशिश करना इतना ज़रूरी है। नियमित रूप से केसर और दूध के पाउडर युक्त घर का बना फेस मास्क इस्तेमाल करना कई लोगों के लिए सबसे अच्छे तरीकों में से एक है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि यह तत्व आपकी त्वचा पर सूर्य के प्रभाव को रोकने में बहुत प्रभावी माने जाते हैं। केसर एक प्राकृतिक सामग्री है, जिसका इस्तेमाल सदियों से काले धब्बों और त्वचा के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए किया जाता रहा है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो मुक्त कणों और अन्य पर्यावरणीय नुकसान से लड़ते हैं। दूध का पाउडर कई अद्भुत गुणों से युक्त होने के साथ-साथ त्वचा की मदद भी करता है, क्योंकि इसमें लैक्टिक एसिड नाम का एंजाइम होता है।

चंदन और हल्दी

Sandalwood and Turmeric for Tan Removal for Face

यह मास्क सन टैन हटाने के अलावा आपकी त्वचा को एक अच्छी चमक देने के लिए भी बहुत अच्छा है। इसके लिए चंदन के पाउडर को हल्दी के साथ कुछ गुलाब जल की बूंदों या दूध की मलाई के साथ मिलाएं। यह आपकी त्वचा को साफ और एक्सफोलिएट दोनों करता है, जिससे आप चमकदार दिखते हैं। इस विधि में चंदन आपकी त्वचा को टोन करता है और बारीक रेखाओं की उपस्थिति को कम करता है, जबकि हल्दी एक सुंदर चमक जोड़ती है।

  • चंदन पाउडर, दूध की मलाई या गुलाब जल बराबर मात्रा में मिलाएं।
  • 20 मिनट के लिए समान रूप से चेहरे पर लगाएं।
  • फिर गर्म पानी से धोने के बाद त्वचा को सुखा लें।

मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल

Multani Mitti and Rose Water

यह एक प्राकृतिक मिट्टी और प्राकृतिक उपचार है, जिसका इस्तेमाल सनटैन हटाने के लिए किया जा सकता है। यह स्वाभाविक रूप से त्वचा की टोन को हल्का करने की क्षमता के लिए जानी जाती है, जो आपको गोरा और युवा दिखाती है।

  • मुल्तानी मिट्टी के पाउडर को पानी में मिलाएं
  • फिर इस पेस्ट को खुजली वाली जगह पर लगाएं।
  • इसे अच्छे से सूखने दें और फिर पानी से धो लें।

यह सन टैन को दूर करने के सबसे बेहतरीन तरीकों में से एक है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मुल्तानी मिट्टी आपकी त्वचा की टोन को हल्का ही नहीं करती है, बल्कि उन हिस्सों से ज़्यादा तेल भी अवशोषित करती है, जहां आपने सन टैन को हटाने के लिए इसका इस्तेमाल किया है। इससे वह हिस्से पहले से ज़्यादा साफ दिखाई देते हैं।

बादाम से बना स्क्रब

टैनिंग से छुटकारा पाने के लिए बादाम को शहद और दूध से स्क्रब करें।

  • इसके लिए बादाम पाउडर, नारियल तेल या जैतून का तेल, आलू के रस का मिश्रण तैयार कर लें।
  • फिर आप इसे अपने हाथों से टैन हटाने के लिए स्क्रब की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • हर दिन थोड़ी मात्रा में टमाटर की गांठें लगाएं, जिससे आप टैन को दूर हो कर सकते हैं।

बादाम में विटामिन ई की मात्रा ज़्यादा होती है। यह धूप के कारण त्वचा को होने वाला नुकसान ठीक करने में आपकी मदद करता है। बादाम में ब्लीचिंग गुण भी होते हैं, जो टैन को दूर कर सकते हैं।

हाथों से टैन कैसे हटाएं? Hathon Se Tan Kaise Hatayin? 

चेहरे के बाद हाथ हमारे शरीर का सबसे ज़्यादा टैन हिस्सा हैं। जब आप अपने टैंक टॉप के साथ बाहर जाते हैं, तो आप अपने हाथों और बाहों को सूरज के सामने उजागर करते हैं। अगर आप बाहर बहुत समय बिताते हैं, तो हाथों और बाहों के लिए यह टैन हटाने के घरेलू उपचार काम आएंगे। यह तरीका आपके चेहरे और पैरों से टैन हटाने में भी आपकी मदद कर सकता है।

खीरा

Cucumber for sun tan

धूप से झुलसी त्वचा के लिए खीरा एक बेहतरीन उपाय हो सकता है। त्वचा को ठंडक प्रदान करने वाला खीरा टैन हटाने की प्रक्रिया में एक फायदेमंद विकल्प माना जाता है।

  • खीरे के बीज निकाल कर उसका रस निकाल लें।
  • कॉटन बॉल से रस को अपनी त्वचा पर लगाएं।
  • धोने से पहले इसे पूरी तरह सूखने दें।

ज़्यादा फायदे लेने के लिए आप खीरे के रस में नींबू का रस भी मिला सकते हैं।

नींबू और चीनी

सन टैन हटाने के लिए आप नींबू के रस और चीनी का पेस्ट बना सकते हैं। कुछ ही समय में परिणाम देखने के लिए इसे अपने चेहरे और हाथों पर रोजाना 15 मिनट के लिए लगाएं। चीनी एक बेहतर एक्सफोलिएंट है, जो त्वचा पर बनी मृत और काली त्वचा की कोशिकाओं को हटाती है। नींबू में विटामिन सी और साइट्रिक एसिड मौजूद होता है, जो टैनिंग प्रक्रिया में आपकी काफी मदद करता है।

एलोवेरा

Aloe Vera

  • टैन को हटाने के लिए एलोवेरा में पानी मिलाएं।
  • इस मिश्रण को त्वचा पर लगाकर 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर ताजे ठंडे पानी से धो लें।

अगर आपको तत्काल परिणाम चाहिए, तो यह एक बहुत ही प्रभावी तरीका है। आमतौर पर यह एक या दो दिनों के अंदर चिकनी त्वचा प्रदान करता है। एलोवेरा के पत्तों के रस में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो त्वचा को ठीक करने और कोमल बनाने में आपकी मदद करते हैं। इसका आपकी त्वचा पर शांत प्रभाव पड़ता है, जो सनबर्न और सनटैन को कम करने में मदद करता है।

निष्कर्ष – Nishkarsh

स्वस्थ त्वचा और प्राकृतिक चमक के साथ गर्मियों से छुटकारा पाने का कोई बेहतर तरीका नहीं है। अगर आप हमेशा अपने सनटैन को हटाने और साल भर उस संपूर्ण रंग को बनाए रखने के तरीकों की तलाश में रहते हैं, तो यह ब्लॉग पोस्ट आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। इसमें आप जानेंगे कि कैसे आयुर्वेद आपके शरीर की सभी प्रणालियों में संतुलन बहाल करते हुए टैनिंग प्रक्रिया को कम करने में मदद करता है। हालांकि, आयुर्वेदिक आहार का पालन करने से आपको कुछ फायदे ज़रूर हो सकते हैं। इनमें आपकी त्वचा पर हल्दी का इस्तेमाल करना और कॉफी के बजाय अदरक की चाय पीना शामिल है। इन उपायों को समय के साथ लगातार लागू करके आप बेहतर नतीजे देख सकते हैं।

मंत्रा केयर – Mantra Care

अगर आप इस विषय से जुड़ी या डायबिटीज़ उपचारऑनलाइन थेरेपीहाइपटेंशन, पीसीओएस उपचार, वजन घटाने और फिजियोथेरेपी पर ज़्यादा जानकारी चाहते हैं, तो मंत्रा केयर की ऑफिशियल वेबसाइट mantracare.org पर जाएं या हमसे +91-9711118331 पर संपर्क करें। आप हमें [email protected] पर मेल भी कर सकते हैं। आप हमारा फ्री एंड्रॉइड ऐप या आईओएस ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं।

मंत्रा केयर में हमारी स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों और कोचों की एक कुशल और अनुभवी टीम है। यह टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने और परेशानी से संबंधित ज़्यादा जानकारी देने के लिए हमेशा तैयार है। इससे आपको अपनी ज़रूरतों के हिसाब से सबसे अच्छे इलाज के बारे में जानने में मदद मिलती है।

Try MantraCare Wellness Program free