मेटफॉर्मिन के फायदे और नुकसान – Metformin Ke Fayde Aur Nuksan

Contents

मेटफॉर्मिन क्या है? Metformin Kya Hai?

मेटफॉर्मिन क्या है

मेटफॉर्मिन ग्लूकोफेज का सामान्य रूप है और यह लेख मेटफॉर्मिन के फायदे से संबधित है, जिसमें टाइप 2 डायबिटीज के इलाज में मदद भी शामिल है। मेटफॉर्मिन में सक्रिय तत्व (एक्टिव इंग्रेडिएंट) मेटफॉर्मिन हाइड्रोक्लोराइड है। आमतौर पर डॉक्टर इसे 18 साल से ज़्यादा उम्र वाले वयस्कों के लिए एक मौखिक दवा के रूप में लिखते हैं। टाइप 1 या टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों द्वारा इस दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, अगर उन्हें टाइप 2 डायबिटीज है और वह इंसुलिन प्रतिरोधी नहीं हैं, तो वह इसका सेवन कर सकते हैं।

इसके अलावा भी मेटफॉर्मिन के कुछ अन्य फायदे हैं, जिसके बारे में सभी को पता होना चाहिए। अगर आप मेटफॉर्मिन का सेवन करते हैं, तो आपका शरीर अन्य दवाओं या उपचारों के प्रति ज़्यादा प्रतिक्रियाशील होगा, जिन्हें डॉक्टर द्वारा आपके टाइप 2 डायबिटीज को प्रबंधित करने के लिए निर्धारित किया गया है। आमतौर पर इन दवाओं को अल्फा-ग्लूकोसिडेस इनहिबिटर या बिगुआनाइड के नाम से भी जाना जाता है। यह दवाएं किसी व्यक्ति के लीवर में ग्लूकोज के उत्पादन को कम करके काम करती हैं। साथ ही यह सुधार करती हैं कि कोशिकाएं इंसुलिन के प्रति कैसे प्रतिक्रिया करती हैं।

अगर व्यक्ति के शरीर में रक्त शर्करा का स्तर बहुत ज़्यादा कम हो जाता है, तो यह निम्न रक्त शर्करा यानी हाइपोग्लाइसीमिया का कारण बन सकता है। इससे किसी व्यक्ति को चक्कर आना, कंपकंपी, भूख और थकान महसूस होने जैसी अन्य समस्याएं हो सकती है। एक बार भोजन करने के बाद यह लक्षण दूर होते हैं, लेकिन मेटफॉर्मिन लेते समय ज़रूरत से ज़्यादा खुराक की वजह से ऐसा अक्सर हो सकता है। यही कारण है कि इस दवा को भोजन के साथ दो बार दैनिक खुराक की ज़रूरत होती है।

मेटफॉर्मिन का उपयोग – Metformin Ka Upyog

मेटफॉर्मिन का उपयोग

निम्नलिखित समस्याओं में आप मेटफॉर्मिन को दवा के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं:

मोटापा 

मेटफॉर्मिन को मोटापा का इलाज करने के लिए किया जा सकता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मेटफॉर्मिन इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने में मदद कर सकती है। इसका मतलब है कि मोटापे से परेशान लोग मेटफॉर्मिन के फायदे ले सकते हैं। यह दवा उनके शारीरिक वजन और मोटापे से संबंधित अन्य मुद्दों में मदद करती है। इनमें जिसमें दिल की बीमारी आदि समस्याएं शामिल हैं।

डायबिटीज

लंबे समय से मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल बिना इंसुलिन पर निर्भर टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस के उपचार में किया जाता रहा है। इसका मुख्य उद्देश्य इंसुलिन के काम को बढ़ाकर रक्त शर्करा का स्तर कम करना है। यह एक ही समय में लीवर की कोशिकाओं को बहुत ज़्यादा ग्लूकोज का उत्पादन करने से रोकती है। इसके अलावा डायबिटीज वाले मरीजों में किसी भी तरह का नुकसान होने से पहले यह रक्त शर्करा के उच्च स्तर को जल्द नीचे लाने में मदद करती है। यह स्थिति किसी के सिस्टम में शर्करा की बढ़ी हुई मात्रा के कारण हो सकता है। उचित इलाज नहीं किये जाने पर मेटफॉर्मिन अंगों में खराबी की वजह बन सकती है।

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस)

इसका इस्तेमाल अक्सर महिलाओं में पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम यानी पीसीओएस के लक्षणों का इलाज करने के लिए किया जाता है। पीसीओएस से इंसुलिन प्रतिरोध और टेस्टोस्टेरोन का उच्च स्तर हो सकता है, जिसके कारण प्रभावित महिलाओं को कई अन्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इनमें अनियमित मासिक धर्म और प्रजनन क्षमता की समस्या आदि शामिल हैं।

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस

यह दवा डायबिटिक कीटोएसिडोसिस के इलाज में भी बहुत उपयोगी मानी जाती है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मेटफॉर्मिन रक्त शर्करा के स्तर को कम करती है, जिससे इस स्थिति को विकसित होने से रोका जा सकता है। इसका मतलब यह है कि जिन लोगों के लिए डायबिटीज का निदान किया गया है, लेकिन निदान के बाद भी लोगों में डायबिटिक कीटोएसिडोसिस विकसित होने का खतरा रहता है। ऐसा अक्सर इसलिए होता है, क्योंकि लोग अपने डायबिटीज प्रबंधन के बारे में पूरी तरह से नहीं जानते हैं। । हालांकि, इसके बाद भी वह मेटफॉर्मिन के फायदे उठा सकते हैं।

मेटफॉर्मिन के फायदे – Metformin Ke Fayde

मेटफॉर्मिन के फायदे

अगर आप डॉक्टर द्वारा मेटफॉर्मिन की निर्धारित मात्रा का उचित तरीके से सेवन करते हैं, तो यह आपके लिए कई तरह से फायदेमंद हो सकती है। ऐसे ही कुछ फायदों में निम्निलिखित शामिल हैं:

प्रजनन क्षमता में सुधार

आमतौर पर मेटफॉर्मिन की दवा पुरुषों और महिलाओं दोनों की प्रजनन क्षमता में सुधार करती है। इसके अलावा महिलाओं में यह अंडे पैदा करने की क्षमता को बढ़ाती है। जबकि, पुरुषों में मेटफॉर्मिन शुक्राणुओं के उत्पादन को बढ़ाकर मदद करती है।

कोलेस्ट्रॉल का कम स्तर

इस दवा को लेने वाले मरीजों में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड का स्तर उन लोगों की तुलना में कम होता है, जो नियमित व्यायाम के साथ मेटफॉर्मिन का सेवन नहीं करते हैं।

वजन घटाने में मदद

एक अध्ययन से पता चलता है कि मेटफॉर्मिन लेने वाले मरीजों का वजन उन लोगों की तुलना में कम था, जिन्होंने इसका सेवन नहीं किया था। उन्होंने दूसरे लोगों के मुकाबले औसतन लगभग पांच पाउंड ज़्यादा वजन कम किया।

इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार

यह किसी व्यक्ति की इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करता है। इसका मतलब है कि मेटफॉर्मिन का सेवन करने से उनके शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन के लिए बेहतर प्रतिक्रिया देती हैं। दूसरे शब्दों में कहें, तो यह दवा उनके रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करती है।

मुंहासे के उपचार में मदद

बहुत से लोगों ने इसे मुंहासे के इलाज के लिए फायदेमंद पाया है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मेटफॉर्मिन उनके शरीर की टेस्टोस्टेरोन बनाने की क्षमता को कम कर देती है। इसके कारण उनकी त्वचा में ज़्यादा तेल उत्पादन होता है और नतीजतन उन्हें कष्टप्रद ब्रेकआउट होते हैं। अगर आप डायबिटीज को प्रबंधित करने के लिए मेटफॉर्मिन का सेवन करते हैं, तो यह दवा सिर्फ मुंहासे का इलाज ही नहीं करती है, बल्कि एक साइड बेनिफिट का काम भी करती है।

कैंसर का जोखिम कम करना

यह मेटफॉर्मिन के फायदे में सबसे प्रमुख है। मेटफॉर्मिन डायबिटीज वाले पुरुषों और महिलाओं में कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद कर सकती है। कुछ अध्ययनों के अनुसार, इसकी संभावना 48 प्रतिशत तक होती है। यह दवा किसी व्यक्ति में इंसुलिन प्रतिरोध को कम कर सकती है, जिससे उसके शरीर में एस्ट्रोजन जैसे सेक्स हार्मोन का उत्पादन बढ़ जाता है। साथ ही यह हार्मोन पर निर्भर कैंसर जैसे स्तन, एंडोमेट्रियल और डिम्बग्रंथि के कैंसर के जोखिम कारकों को बढ़ाने का काम भी करती है। इससे उनके रक्त शर्करा के स्तर में कमी आती है, जिसकी वजह से कोशिका के बंटने की दर कम हो जाती है और उन्हें ट्यूमर की समस्या हो सकती है।

दिल की बीमारी के जोखिम में कमी

यह दवा कोलेस्ट्रॉल को कम करने के अलावा दिल की बीमारियों को रोकने में मदद करती है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल करने वाले लोगों में कार्डियोवैस्कुलर घटनाओं के मामले उन लोगों की तुलना में कम होते हैं, जो मेटफॉर्मिन का सेवन नहीं करते हैं।

रक्त शर्करा के नियंत्रण में सुधार

यह मेटफॉर्मिन के अन्य फायदों में से एक है। अगर किसी व्यक्ति को टाइप 2 डायबिटीज की समस्या है और वह अपनी अन्य दवाओं के साथ मेटफॉर्मिन का सेवन करते हैं, तो यह दवा 18 साल से ज़्यादा उम्र के लोगों में रक्त शर्करा नियंत्रण को सुधारने में मदद कर सकती है। यह डायबिटीज की सभी दवाओं के लिए सही नहीं है, क्योंकि जब इसे अकेले लिया जाता है, तो कुछ दवाएं व्यक्ति में निम्न रक्त शर्करा स्तर का कारण बन सकती हैं। यह दवा इंसुलिन इंजेक्शन या नई मौखिक एंटी-डायबिटिक दवाओं से बेहतर काम करती है, जिन्हें डाइपेप्टिडाइल पेप्टिडेज़-IV (डीपीपी-IV) इनहिबिटर जैसे सक्सागलिप्टिन, सीटाग्लिप्टिन और लीनाग्लिप्टिन कहा जाता है। हालांकि, यह नई दवाएं हाइपोग्लाइसीमिया या वजन बढ़ाए बिना इंसुलिन जैसी मेटफॉर्मिन के प्रति शरीर की प्रतिक्रिया को बेहतर बनाने में भी मदद करती हैं।

जीवन काल बढ़ाने में मदद

अध्ययनों से पता चलता है कि मेटफॉर्मिन को इस्तेमाल करने वाले लोगों का जीवनकाल बढ़ा हुआ होता है। यह दवा डायबिटीज वाले लोगों के लिए दिल की बीमारी के जोखिम को लगभग 48 प्रतिशत या इससे भी ज़्यादा कम करने में मदद करती है। हालांकि, खासतौर से ऐसा तब हो सकता है, जब इसका सेवन इंसुलिन, सल्फोनीलुरिया और थियाज़ोलिडाइनायड्स जैसी अन्य दवाओं के साथ किया जाता है।

मनोभ्रंश की रोकथाम

मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल करने वालों में अल्जाइमर की बीमारी या मनोभ्रंश विकसित होने का जोखिम भी कम होता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि यह दवा किसी व्यक्ति के शरीर में इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाती है और सूजन को कम करती है। डॉक्टरों की मानें, तो यह दोनों ही न्यूरोडीजेनेरेशन से बचाते हैं।

दिल की धड़कन रुकने से बचाव

यह मेटफॉर्मिन से होने वाले अन्य फायदों में शामिल है। मेटफॉर्मिन की दवा टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित मरीजों में रक्तचाप के स्तर को कम करती है। साथ ही यह दवा उनमें कार्डियक हाइपरट्रॉफी यानी बढ़ी हुई मोटाई को रोकने में मदद करके उन्हें दिल की धड़कन रुकने की समस्या से भी बचाती है। अगर आपके पास दिल की समस्याओं या अन्य बीमारियों का पारिवारिक इतिहास है, जो इस स्थिति को विकसित करने की संभावना को बढ़ाने का कम करते हैं, तो इस दवा को लेने से पहले अपने डॉक्टर से पूछना आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। फिर भले ही यह मोटापा, उच्च कोलेस्ट्रॉल और उच्च रक्तचाप जैसी दिल की धड़कन रुकने से जुड़ी कुछ स्थितियों आदि को रोकने में मदद करता है।

कैंसर से जीवित रहने की दर में सुधार

कैंसर से निदान होने के बाद मेटफॉर्मिन लेने वाले मरीजों में दवा नहीं लेने वालों की तुलना में जीवित रहने की दर में सुधार हो सकता है। यह उन कैंसर के लिए सही है, जो महिलाओं में ओवरी, एंडोमेट्रियल या स्तन कैंसर जैसे हार्मोन पर निर्भर हैं।

डायबिटीज की रोकथाम

यह मेटफॉर्मिन के अन्य फायदों में से एक है, जिसके अनुसार मेटफॉर्मिन के इस्तेमाल से डायबिटीज होने की संभावना को 58 प्रतिशत तक रोका जा सकता है। इसका मतलब है कि जिन लोगों में डायबिटीज की बीमारी विकसित होने का जोखिम है। यह दवा उन व्यक्तियों के लिए टाइप 2 डायबिटीज की शुरुआत में देरी कर सकती है। इसके अलावा यह उनके रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में भी मदद करती है और कोशिकाओं को इंसुलिन के प्रति ज़्यादा संवेदनशील बनाती है।

पीसीओएस के लक्षणों को प्रबंधित करने में मदद

यह मेटफॉर्मिन से संबंधित अन्य फायदों में शामिल है। महिलाओं में पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम यानी पीसीओएस नाम का एक सामान्य विकार अंडाशय पर सिस्ट के कारण महिला सेक्स हार्मोन में असंतुलन का कारण बनता है। यह स्थिति किसी महिला के लिए गर्भवती होने में समस्या पैदा कर सकती है। हालांकि, अगर कोई महिला मेटफॉर्मिन का सेवन करती हैं, तो यह ओव्यूलेशन में सुधार और इंसुलिन प्रतिरोध को कम करके इसका इलाज करती है, जिससे उन्हें डायबिटीज की बीमारी हो सकती है।

मेटफॉर्मिन के नुकसान – Metformin Ke Nuksan

Side effects

कुछ मामलों में मेटफॉर्मिन फायदे के बजाय नुकसान का कारण बन सकती है। इनमें निम्नलिखित शामिल हैं:

शारीरिक कमजोरी

आमतौर पर शरीर को प्रदान की जाने वाली ऊर्जा की कमी के कारण आपको शारीरिक कमज़ोरी का अहसास होता है।

निम्न रक्त शर्करा

आपको निम्न रक्त शर्करा स्तर की समस्या कई कारकों की वजह से हो सकती है। हालांकि, खासतौर से यह स्थिति तब होती है, जब आप अन्य दवाओं के साथ मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल करते हैं या इस दवा का सेवन किए बिना खाना खाते हैं।

मतली और उल्टी

अगर आपकी मतली और उल्टी की समस्या बहुत ज़्यादा बढ़ जाती है, तो आपको तुरंत एक चिकित्सा पेशेवर से संपर्क करना चाहिए।

दस्त

यह समस्या कुछ समय के बाद होती है, लेकिन आमतौर पर आपके शरीर में दवा के मिल जाने के बाद यह दूर हो जाती है। कुछ लोगों को इसके बजाय कब्ज का अनुभव हो सकता है, जिससे उन्हें पेट में दर्द की समस्या हो सकती है। कई बार यह स्थिति इस समस्या वाले लोगों के लिए बहुत ज़्यादा गंभीर भी हो सकता है, जिसके लिए उन्हें तुरंत अपने डॉक्टरों से मदद लेनी चाहिए।

लैक्टिक एसिडोसिस

यह बहुत दुर्लभ है, इसलिए जब तक आपको कई लक्षण दिखाई नहीं देते, तब तक आपको ज़्यादा परेशान होने की ज़रूरत नहीं है। इन लक्षणों में थकान और आपके पूरे शरीर की मांसपेशियों में दर्द होना शामिल हैं। कुछ अन्य लोगों को फ्लू जैसे लक्षण के साथ-साथ मतली और उल्टी की समस्या भी हो सकती है।

एलर्जिक प्रतिक्रिया

अगर आप पित्ती, सूजन या सांस लेने में कठिनाई का अनुभव करते हैं, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

पेट में दर्द

इसकी सबसे ज़्यादा संभावना पेट और आंतों की गैस के कारण होती है।

धुंधली दृष्टि

अक्सर यह एक गंभीर समस्या बन जाती है, जो आपके द्वारा मेटफॉर्मिन लेना बंद करने के बाद भी ठीक नहीं होती है। इसके लिए आपको डॉक्टर से तुरंत संपर्क करने की सलाह दी जाती है।

थकान

अगर आपको ज़्यादातर थकान महसूस होती है, तो यह एस गंभीर समस्या का संकेत भी हो सकती है। ऐसी स्थिति में कम से कम एक घंटे तक आराम करने के लिए बिस्तर पर लेट जाएं। ऐसा गतिविधियों को दोबारा शुरू करने से पहले किया जाना ज़रूरी है, जैसे बाहर काम करना या कहीं गाड़ी चलाना।

जल्दी पेशाब आना

आप ऐसी समस्याओं को होने से रोक सकते हैं, जो अक्सर बाथरूम जाने के दौरान होती हैं। इसलिए आपको दिन भर में ढेर सारा पानी पीना चाहिए। इससे आपको हाइड्रेटेड रहने में मदद मिलती है और मेटफॉर्मिन लेने वाले लोगों में बार-बार पेशाब आने की स्थिति में सुधार होता है।

भूख में कमी

यह मेटफॉर्मिन लेने का कोई बुरा दुष्प्रभाव नहीं हो सकता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि इससे डायबिटीज वाले लोगों को अपना वजन प्रबंधित करने में मदद मिलती है।

चकत्ते

यह समस्या आपके शरीर में एलर्जिक प्रतिक्रिया की वजह से होती है। यह या तो मेटफॉर्मिन या किसी अन्य दवा, खाद्य पदार्थ आदि में निहित कुछ है। ऐसे में आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प यह है कि आप मेटफॉर्मिन के साथ उपचार के दौरान कुछ भी लेने से पहले लेबल की जांच करें।

फंगल इंफेक्शन

ऐसा बहुत कम होता है, क्योंकि इससे मुंह या योनि में फंगल इंफेक्शन हो जाता है। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

मेटफॉर्मिन को प्रबंधित करने के टिप्स – Metformin Ko Manage Karne Ke Tips

आमतौर पर यह दुष्प्रभाव अस्थायी होते हैं जो कभी-कभी ज़्यादा समय तक बने रह सकते हैं। इसे मेटफॉर्मिन असहिष्णुता (मेटफॉर्मिन इंटॉलरेंस) कहते हैं। ज़्यादा गंभीर लक्षणों के लिए आपको जल्द डॉक्टर से मिलना चाहिए, जिससे आप जान सकते हैं कि मेटफॉर्मिन बंद करना आपके लिए सुरक्षित है या नहीं।

निम्नलिखित सुझावों से आप मेटफॉर्मिन को दुष्प्रभावों को प्रबंधित कर सकते हैंः

  1. इसका सबसे अच्छा तरीका मेटफॉर्मिन को भोजन के साथ लेना है। आपको इसे अपनी खुराक लेने से तुरंत पहले या बाद में नहीं खाना चाहिए। इससे रक्तप्रवाह में दवा के अवशोषण को धीमा करने में मदद मिलती है।
  2. मेटफॉर्मिन शुरू करते समय आपको डॉक्टर से बात करना ज़रूरी है। साथ ही आपको जानना चाहिए कि दवा का इस्तेमाल करते समय शराब पीना आपके लिए सुरक्षित है या नहीं।
  3. कई डॉक्टर मरीजों को शराब से परहेज़ की सलाह देते हैं। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मेटफॉर्मिन के साथ संयोजन में इसके सुरक्षा स्तरों के संबंध में पूरा शोध नहीं किया गया है। इसके अलावा आपको निवारक उपायों के बारे में भी पता होना चाहिए। ऐसा तब होता है, जब सेवन के दौरान समस्याएं पैदा होती हैं, जैसे मॉडरेशन में शराब पीना।
  4. मेटफॉर्मिन लेते समय आहार में बदलाव से सावधान रहें। सामान्य से ज़्यादा कार्ब्स खाना आसान है, जो आपकी रक्त शर्करा का स्तर गंभीर रूप से प्रभावित कर सकता है।
  5. मेटफॉर्मिन की शुरूआत से पहले यह जानना अच्छा विचार है कि कौन से खाद्य पदार्थ कार्बोहाइड्रेट में उच्च हैं। इससे आपको किराने की खरीदारी या बाहर खाने के दौरान स्वस्थ विकल्प चुनने की छूट मिलती है।
  6. कुछ लोगों को भोजन के साथ उनकी दवा लेने से मिचली या उल्टी जैसी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में दिन के उस समय को बदलने की कोशिश करें, जब आप अपनी खुराक लेते हैं।

निष्कर्ष – Nishkarsh

डॉक्टर टाइप 2 डायबिटीज के लिए मेटफॉर्मिन लिखते हैं। अध्ययन से पता चलता है कि जो लोग दवा लेते हैं वे पांच साल तक जीवित रह सकते हैं। यह उन लोगों की तुलना में है जो इसका इस्तेमाल नहीं करते हैं। वे हृदय रोग के जोखिम को भी 25% तक कम कर सकते हैं। लेख में आपको इस शक्तिशाली दवा के बारे में कुछ जानकारी दी गई है जो आपके स्वास्थ्य को कई तरह से बेहतर बनाने में मदद कर सकती है। इस या किसी अन्य दवा के बारे में अधिक जानने के लिए मंत्र केयर पर जाएँ।

मंत्रा केयर – Mantra Care

अगर आप इस विषय से जुड़ी या डायबिटीज़ उपचारऑनलाइन थेरेपीहाइपटेंशन, पीसीओएस उपचार, वजन घटाने और फिजियोथेरेपी पर ज़्यादा जानकारी चाहते हैं, तो मंत्रा केयर की ऑफिशियल वेबसाइट mantracare.org पर जाएं या हमसे +91-9711118331 पर संपर्क करें। आप हमें [email protected] पर मेल भी कर सकते हैं। आप हमारा फ्री एंड्रॉइड ऐप या आईओएस ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं।

मंत्रा केयर में हमारी स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों और कोचों की एक कुशल और अनुभवी टीम है। यह टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने और परेशानी से संबंधित ज़्यादा जानकारी देने के लिए हमेशा तैयार है। इससे आपको अपनी ज़रूरतों के हिसाब से सबसे अच्छे इलाज के बारे में जानने में मदद मिलती है।

Try MantraCare Wellness Program free